Khwaab Saare Hi Toote Hai


Waiting For Someoneहसरतों की ना पूछो तुम,
ख्वाब सारे ही टूटे है,
ख्वाहिश जिनके साथ की,
वो हाथ हमसे छूटे है.
हसरतों की न पूछो तुम,
ख्वाब सारे ही टूटे है..

सब्र मेरी ना पूछो तुम,
उसके इन्तेजार में जागे है.
उम्मीद उसके लौट आने की,
जीने के बचे बहाने है.
हसरतों की ना पूछो तुम,
ख्वाब सारे ही टूटे है..

दिल ने माना है जिसको दिलबर,
वो नाज़नीं नजरों से ओझल है,
चाँद बिना उदास आज अम्बर,
हुआ शीत रहित दिसंबर है.
हसरतों की ना पूछो तुम,
ख्वाब सारे ही टूटे है..

हसरतों की ना पूछो तुम,
ख्वाब सारे ही टूटे है,
ख्वाहिश जिनके साथ की,
वो हाथ हमसे छूटे है.
हसरतों की न पूछो तुम,
ख्वाब सारे ही टूटे है..

वो थे सबसे सुनहरे पल…


तुम्हारे साथ बिताये हुए वो पल,
वो थे सबसे सुनहरे पल…

जब सपनों में तुम थी,
और सामने भी तुम..
जब जिक्र में तुम थी,
जज्बात में भी तुम..
हाँ थे वो सुनहरे पल,
जब पास में तुम थी,
और प्यास में भी तुम..

तब मुझमें “मैं” कहाँ था,
बस जी रही थी तुम..
तब मेरा ये जहाँ था,
जब साथ में थी तुम..
जी रहा था जन्नत को जमीं पे,
परी बनके मिली थी तुम..

तुम्हारे साथ बिताये हुए वो पल,
वो थे सबसे सुनहरे पल…

सुबह के धुप में तुम थी,
रात अधेरों में भी तुम..
मेरे अश्कों में तुम थी,
और आशिकी में भी तुम..
दर्द तुमसे था,
दीवानगी में भी तुम..
जी रहा था ख्वाबों को,
जब साथ में थी तुम..

पर जिंदगी अब वो नहीं है,
ना ही साथ में हो तुम..
न दुनिया ख्वाबों की रही,
न चाहत में हो तुम..
दोष किसका दूँ, कहो?
समझाऊं खुद को क्या मैं अब,
कहूँ, दिल था कमजोर मेरा,
या भरोसा तुमको मुझपे कम,
तुम ही बता दो क्या कहूँ,
क्यूँ रूठा मुझसे मेरा कल..?

तेरी यादें, तेरी बातें, तेरा चेहरा ए सनम..


Swetie-Veer

तेरी यादें, तेरी बातें,
तेरा चेहरा ए सनम..
होता तन्हां या भीड़ में कहीं,
होते है ये संग सनम..
तेरी यादें, तेरी बातें,
तेरा चेहरा ए सनम.

घोले मिश्री कानों में जो,
वो तेरी बातें है सनम..
धुप में भी जो भिंगोये,
वो तेरा प्यार है सनम..
तेरी यादें, तेरी बातें,
तेरा चेहरा ए सनम..

है जिसका इन्तेजार,
जो हर पल पास,
वो तेरा प्यार है सनम..
खोने की जिसमें है हसरत,
जिससे सारे ख्वाब सजाये,
वो तेरी चाहत है सनम..

तेरी नजरें, तेरी जुल्फें,
तेरा चेहरा ए सनम..
दिखता खाली, या गूम सा कहीं,
उलझा हूँ इनमें सनम,
तेरी नजरें, तेरी जुल्फें,
तेरा चेहरा ए सनम..

होता खोया ख्वाब में कहीं,
या की तेरी यादों में मैं,
मुस्कुराता हूँ उन पलों में,
होती जब तुम संग सनम..
तेरी नजरें, तेरी जुल्फें,
तेरा चेहरा ए सनम..

न कहो तुम वो सुनु मैं,
ऐसा रिस्ता है सनम,
पाऊं तुझको, खोऊ उनमें,
है ये हसरत अब सनम..
तेरी यादें, तेरी बातें,
तेरा चेहरा ए सनम.

——————————————————————————–

——————————————————————————–

Veer SwetieTeri yaadein, teri baatein,
Tera chehraa aye sanam..
Hota tanhan, ya bhid mein kahin,
Hoti hai ye sang sanam..
Teri yaadein, teri baatein,
Tera chehraa aye sanam..

Ghole mishari kaano mein jo,
wo teri baatein hai sanam,
dhup mein bhi jo bhingoye,
wo tera pyaar hai sanam..
Teri yaadein, teri baatein,
Tera chehraa aye sanam..

Hai jiska intejaar,
jo har pal paas,
wo tera pyaar hai sanam..
khone ki jisamein hai hasrat,
jisase saare khwaab sajaaye,
wo teri chaahat hai sanam..

Teri najrein, Teri julphein,
tera chehra aye sanam..
Dikhta khaali ya gum sa kahin,
uljha honn inmein sanam..
Teri najrein, Teri julphein,
tera chehra aye sanam..

Hota khoya khwab mein kahin,
Ya ki teri yaadon mein mai,
muskuraata hun un palon mein,
hoti jab tum sang sanam..
Teri yaadein, teri baatein,
Tera chehraa aye sanam..

Na kaho tum, ab wo sunoo main,
aise tumse rishta sanam,
paaun tujhko, khoun unmein,
hai ye hasrat ab sanam,
teri yaadein, teri baatein,
tera chehra aye sanam..

—————————————————————————-

हर चेहरे में तू ही नज़र आता है..


Veer's Cutieजिंदगी के हज़ारों मतलब थे तेरे मिलने से पहले ,
अब सब मतलबों का मतलब प्यार समझ आता है।।
पहले चेहरों को देख बदलते थे रंग मेरे चेहरे पे,
अब मुस्कुराता हूँ हर पल  कि, हर चेहरे में तू ही नज़र आता है।।
——————————————————-
Jindagi ke hazaaron matlab the tere milne se pahle,
Ab sab matlabon ka matlab pyaar samajh aata hai..
pehle chehron ko dekh rang badalte the mere chehre pe,
ab har pal muskuraata hu ki, har chehre mein bus tu hi nazar aata hai…
For u only..Swweettiiiee..by yours only

ख्वाबों में देखा है उनको


eye

ख्वाबों में देखा है उनको,
आँखों को अब भी है इन्तेजार,
दिल, बस सुनता है उनको,
कर्ण, अब भी सुनने को बेकरार,
ख्वाहिश अपना बना लूँ मैं उनको,
उम्मीद, हकीकत को उनसे हज़ार।।

मेरी प्रियतम जो मेरे संग है..


Sweet Coupleसुहानी मौसम, रंगीन फिजा,
है आसमान की सतरंगी छटा.
बादल है थिरक रहे,
और गुनगुना रही आज हवा..

आसमान में उरते पंछी,
मानो अभिनन्दन हो कर रहे,
पेड़ों की टहनी झूम-झूम,
अठकेली शायद कर रही,

मौसम ने बदला है तेवर,
हमदोनो को देखकर…
या फिर मेरी नजर बदल गयी,
अपनी गजल को देखकर…

ये दृश्य बड़ा निराला है,
भाए सबको सा न्यारा है.
दिन ये बड़ा विशेष है ,
मेरी प्रियतम जो मेरे संग है..

– सन्नी कुमार