चुनाव नहीं मतदान करें


चुनाव नहीं मतदान करें,
नए भारत का निर्माण करें.

मत दो वोट गिरगिटों को,
न जयचंद की औलादों को,
है जिनका खुद स्पस्ट मत नहीं,
उन गद्दारों को अब वोट न दो।

दो ऐसा मत, सेना का मान बढे,
बेदी हो हर घर, न दूसरी दुर्भाग्यिनि बनें.
फिर कभी कश्मीर में तिरंगा लुटे न,
मुज़फ्फरनगर, कोकराझार में देश टूटे ना.

था विश्वगुरु यह भारत,
फिर से वही गौरवमयी इतिहास बनें,
न बटें आपस में पाखंडो के नाम पर,
आदेश हो सर्वधर्म रक्षा की,
आओ ऐसे हम मतदान करें.

चुनते आ रहे पिछले ६५ सालो से,
इस बार, कुछ नया करना है,
अब और ना उलझे रोटी की जद में,
की इस बार मतदान हमें अब करना है.

मत दो ऐसे मतवाले को,
हो मतवाला, देश समर्पित,
न करो मतभेद जो भेष न बदले,
होगा काफी वो देश के हालत जो बदले.

भारत जग में और महान बने,
गौ, गंगा, गायत्री का भी सम्मान रहे,
कोई रोके न हिंदुस्तानी को हिंदुस्तान में,
सारे वतन में तिरंगा आन रहे.

की अब और नहीं घोटाला हो,
न कलमाड़ी न कोई राजा हो,
न ही लड़ाई छोड़ने वाला बेचारा हो,
जो दम्भ भरे और जग मूक हो जाए,
ऐसे हाथो में तुम कमान को दो.

जो सेवक हो, सेवा का अनुभव भी हो,
ऐसे सक्षम बेटे को बल अब दो,
क्या हुआ जो गांधी सा नाम नहीं,
कम है क्या बारह सालों में कोई दाग नहीं?

आप मत उलझो मेरे शब्दों में,
बस खुद से कुछ सवाल करो,
क्यों घेर रहे सब मिलके, उसको अभिमन्यु सा,
क्यों नहीं उससे कोई तरक्की की बात करें?

जो मिले जवाब उस को बुलंद करो,
जीते कोई जीत हो भारत की,
बस इतना ही तुम ख्याल रखो,
इस बार से वोट नहीं, अपने मत का तुम दान करों,
की आओ इस बार मतदान करो.

Advertisements

AAP Kuchh Bhi Ho Sakte Ho


[I have observed these guys and also supported once when they were not involved in politics (may be they were but not pubclically), but now they have a new team (The Jhaadu Wallas), new opinions(Where and When To Do Strike) and they also seem that they compromised with so many things and worst about it that being in politics they can’t share such things. But what what I am thinking about India’s new political party AAP, that they are just running behind the glamour. For me it does not matter that they had already created history and most of us are appreciating them. What i wanted to know about them is here, hope you will get..]File Photo : Aug 2012

हम है हिन्दुस्तानी,
आप तो,
कुछ भी हो सकते हो।
हम अपनी करनी से जाने जाते है,
आप, अब नौटंकीबाज कहाते हो।
हम वोट के लिए अपनी,
पहचान नहीं बदलते,
और आप नंबर प्लेट से भी,
राजनीती करते हो।

हमारे लिए कश्मीर हमारा मान है
और भारत माँ समान।
और आप हो जो भावरूपी भारती से,
परहेज रखते हो।

हम बात करते है, जान ले लेने की,
जो बात करते है, कश्मीर ले लेने की,
और आप हो की कश्मीर बाँट लेने की, बात करते हो।

हम खाप कि खामियों को, है सहर्ष स्वीकारते,
आप ठहरे सातिर, जो यहाँ सबको उलझाते।

हम आते है जब सत्ता में,
तब शोर होता है,
शासन होता है, काम होता है,
बाधायें होती है, पर देश बढ़ता है।

आप तो पद कि गरिमा का भी
न ख्याल करते हो,
धड़नो पर बैठ आप,
बस बुद्धू बनाते हो।

आप का खैर कुछ नहीं,
पर देश रुकता है।
आप की सुर्ख़ियों की हसरत,
में देश रुकता है।

हम वो जो व्यस्वस्था परिवर्तन की बात करते है,
सुशासन, सुरक्षा और समानता की बात करते है,
और आप आरक्षण और छूट, छूट, छूट की बात करते हो।

हम है हिन्दुस्तानी, हिंदुस्तान कि बात करते है,
आप से कहाँ हम, जो बाँट कर राज करते है।

हम वो जो शिक्षा, सद्भाव और रोजगार की बात करते है,
आप यहाँ धड़ना, वहाँ रुकना,
और प्रतिशतता की बस बात करते हो।

हम है हिन्दुस्तानी, हिंदुस्तान कि बात करते है,
आप जो बात करते हो बस आपको मालुम,
आप किसकी बात करते हो।

Sunny Kumar